sd24 news network, provides latest news, Current Affairs, Lyrics, Jobs headlines from Business, Technology, Bollywood, Cricket, videos, photos, live news

ru

Rumble

Click

Wednesday, September 9, 2020

कंगना राणावत और दंगाई, दरिंदे दलाल मीडिया का खेल - एक साजिश ?

कंगना राणावत और दंगाई, दरिंदे दलाल मीडिया का खेल

SD24 News Network : कंगना राणावत और दंगाई, दरिंदे दलाल मीडिया का खेल
बडी खबर ये है के भारतीय दलाल मीडिया की रिया सीरीज खत्म आज से कंगना सीरीज शुरू ।

दलाल लोग TRP के लिए कुछ भी करेंगे,बस असली मुद्दों से भटकायेंगे! लेकिन तुम लोग काहे मरे जा रहे हो?  अयोध्या में शिवसेना भी बाबरी मस्जिद तोडने में शामिल थी । आज उसी शिवसेना को कंगना बाबर की सेना बोल रही है ।

और जो पार्टी आज कंगना के साथ खड़ी है वो कल अयोध्या में शिवसेना के साथ खड़ी थी । ये लडाई पार्ट टाइम है । वरना आपको क्या लगता है कंगना मुंबई को पाकिस्तान और शिव सेना को बाबर की सेना बोलकर अबतक बची रहती? 

बेवकूफी मत करो ये अपनी अपनी दुकानों के लिए लड़ रहे हैं और मौका देख कर समझौता कर लेंगे । तुम लोग किसी भी पार्टी की तरफ से रोड जाम करो तुम्हारे हाथ मे बाबाजी का ठुल्लु भी नही आने का ।


कंगना के घर आफिस पर बुल्डोजर चलने को बडा जुल्म और अन्याय बताकर युवाओं को लडाने के लिए सडक पर लाने वालों और लोकतंत्र की दुहाई देने वालों से पूछिए । के, क्या सिर्फ कंगना का अवैध मकान टुटा है? हजारों टुटे हैं लेकिन मिडिया एक कार्यवाई को दंगे का रुप दे रहा है । और तुम जाल मे फंस रहे हो । पूछिए के हजारों मजदूर और किसान सिसक कर इस देश मे मरते हैं  सेंकडों झोपड़े रोजाना दम तोडते है तब तुम्हारा जमीर क्यों नही जागता? 

ये फ़िल्म की Actress है किसी फ़िल्म में झांसी की रानी बनेगी तो किसी मे वैश्या का रोल करेगी । (2013 मे रज्जो फिल्म मे कंगना ये रोल कर चुकी है) इनके लिए पैसा सब कुछ है अभी वो चुंकि इंडस्टरी मे फ्लाप चल रही है तो भाजपा के लिए रोल कर रही है । भावनाओ के साथ दिमाग भी इस्तमाल किया करो, अभी कंगना के नाम पर अन्याय का मातम करने वाले भाजपाई हैं ।

मिडिया पागल कुत्तों की तरह कंगना के विरुध अत्याचार पर कडे सवाल भोंक रहा है । क्या आपने इस मिडिया को कभी गरीब मजदूरों, किसानों, छात्रों और बेरोजगारों कि समस्याओं पर नरेंद्र मोदी और अमित शाह से सवाल करते देखा है? ये दुम हिलाते हुए दंगाई दरिंदे हैं । जो आपके बच्चों को राजनीतिक खिलौना बना रहे ये आपको मानसिक रुप से गुलाम बना रहे हैं। (वाया सोशल मीडिया)

No comments:

If you haven't seen this then your life is meaningless.

Recent Comments