sd24 news network, provides latest news, Current Affairs, Lyrics, Jobs headlines from Business, Technology, Bollywood, Cricket, videos, photos, live news

ru

Thursday, April 22, 2021

पैगम्बर ने जाती व्यवस्था को खत्म कर समतामूलक इस्लाम का निर्माण किया - क्रांति कुमार

पैगम्बर ने जाती व्यवस्था को खत्म कर समतामूलक इस्लाम का निर्माण किया - क्रांति कुमार

SD24 News Network - पैगम्बर ने जाती व्यवस्था को खत्म कर समतामूलक इस्लाम का निर्माण किया - क्रांति कुमार

महान पैगम्बर मोहम्मद से अरब का इतिहास शुरू होता है. मोहम्मद ने इस्लाम धर्म की स्थापना की. इस्लाम धर्म ने सभी विभाजित जनजातियों को जोड़कर अरब संस्कृति की नींव डाली. अरब की इस्लामिक संस्कृति ने साहित्य, ज्ञान, विज्ञान और नए दार्शनिक विचारों को जन्म दिया !

पैगम्बर मोहम्मद साहब और इस्लाम से पहले का अरब.
रेगिस्तान मरुस्थल जहां चारो तरफ रेत ही रेत. विभिन्न जनजातियों में विभाजित अरब भूमि जहां कृषि नही केवल व्यापार ही कमाने का जरिया था. भेड़ ऊँट पालने वाली हर खानाबदोश जनजाति हथियारों से लैस होकर चलते थे. अपने जातीय वर्चस्व के लिए हर एक जनजाति एक दूसरे के खून के प्यासे थे !

कौन सी जनजाति एक दूसरे से बड़ी है इसके लिए हमेशा खून खराबा करते. हर जनजाति का नाम जनजाति के मुख्य पुरष सरदार के पूर्वजों के नाम पर होता. उदाहरण प्रस्तुत - सोललुबा जनजाति को परिअह समझा जाता था, यानी बहिष्कृत जनजाति जो नीच है निचले स्तर के हैं !

आपसी रंजिश के कारण लाल सागर का व्यापार बाधित होता. और अरब पर अन्य साम्राज्य के हमले का भी खतरा मंडरा रहा था. हर जनजाति अपने लोगों के प्रति प्रेम और दूसरे जनजाति के प्रति घृणा का भाव रखते थे. जनजातियों की निष्ठा, समर्पण व सामाजिक जिम्मेदारी की भावना केवल अपने जनजाति तक सीमित थी !

कुरैशी जनजाति जिसका वर्चस्व मक्का पर था. इसी जनजाति के हाशिम वंश से मोहम्मद थे. उन्होंने ने "ANNIHILATION OF TRIBE" की अवधारणा दी. जन जातियों को मिटा कर सभी एक हो जाए. 

1. मोहम्मद साहब ने एक ईश्वरीय सिद्धांत और एक धर्म तले सभी जनजातियों को संगठित किया. उस महान धर्म का नाम रखा इस्लाम.
2. इस्लाम धर्म समतामुल्क और लोकतांत्रिक मूल्यों पर आधारित था.
3. इस्लाम अपने उद्देश्य में कामयाब हुआ. लेकिन विरोध भी हुआ. मोहम्मद साहब की खुद की जनजाति और कई अन्य जनजातियों ने इस्लाम को कुचलने की कसम खाई
4. मोहम्मद साहब ने ऐसे लोगों के खिलाफ जिहाद छेड़ दिया. समाज को तोड़ने वाले विभाजित करने वालों की हार हुई.
5. भाईचारे बंधुत्व स्वतंत्रता और समानता का धर्म इस्लाम विजयी हुआ.

(सलल्लाहु अलैहि वसल्लम) 


पैगम्बर मोहम्मद साहब ने बिखरे हुए सभी जनजातियों को जोड़कर इस्लाम के झंडे तले एक कर दिया. इस एकता ने अरब के मुसलमानों को ऐसी असाधारण शक्ति और ताक़त प्रदान की, जो भी इनके सामने रास्ते में आया वह टूट गए, फुट गए, झुक गए और मिट गए !

"ANNIHILATION OF CASTE"  जाति खत्म कर हम 85% जातीय जुड़कर विश्व विजेता बन सकते हैं. तब जो भी हमारे सामने आएगा हमारे एकता के आगे टूट फुट जाएंगे, झुक जाएंगे और मिट जाएंगे !
-लेखक क्राति कुमार आंबेडकरवादी कार्यकर्ता है

No comments:

If you haven't seen this then your life is meaningless.

Recent Comments